Employment News

National Employability Enhancement Mission नीम स्कीम से उद्योग ले रहे है पूरा फायदा

National Employability Enhancement Mission
National Employability Enhancement Mission
National Employability Enhancement Mission

 

नीम स्कीम से  उद्योग ले रहे है पूरा फायदा

National Employability Enhancement Mission अजीत वाईस प्रेजिडेंट ‘बेलसोनिका एम्प्लाइज यूनियन’ ने बताया कि नीम स्कीम  (नेशनल एम्प्लॉयमेंट एनहांसमेंट मिशन )  तथा  ठेकेदार प्रथा से स्थायी कर्मचारियों को नुक्सान हो रहा है ा उन्होंने बताया कि उद्योग घाटे की बात करके बड़े बड़े पलांट बंद कर रहे है ा अभी गुजरात में बड़े बड़े प्लांट जो बाद हुए  ा  वह उद्योग थर्ड पार्टी उद्योगों में अपने प्रोडक्ट्स को नीम स्कीम के तहत कर्मचारियों  को  लगाकर आसानी से बनवा लेती है  ा  इसी बजह से  पलांट नियमित कर्मचारीययो  और यूनियन की मांगो  को देखकर बोलती है कि कंपनी में मंदी का दौर चल रहा है ा

National Employability Enhancement Mission
Neem skill development

Neem (National Employability Enhancement Mission ) स्कीम क्या है ?

नीम  का  अर्थ  (Neem) नेशनल एम्प्लॉयमेंट एनहांसमेंट मिशन )  सरकार द्वारा चलायी गयी स्कीम स्किल डेवलपमेंट योजना है इस योजना के तहत जो कर्मचारी दसवीं या 12  पास इस योजना का लाभ ले सकते है ा या जिन  कर्मचारियों की आयु 18 से 38 बर्ष है  ा इस योजना का हिस्सा बन सकते है ा

National Employability Enhancement Mission नीम स्कीम के तहत  कंपनी में कार्य 

नीम को इंडस्ट्री भाषा में ऍप्रेंट्सशिप भी कहा जाता है ा इस ट्रेनिंग पीरियड में कर्मचारी को कंपनी में कार्य करने की ट्रेनिंग दी जाती है ा कर्मचारी  को तक्नीकी से मशीन पर कार्य कैसे करते है जी ऍम पी कैसे फॉलो करते है  पैकिंग से मैन्युफैक्चरिंग तक की सारी ट्रेनिंग दी जाती है ा

नीम योजना से कैसे स्थायी कर्मचारियों को हो रहा नुक्सान

उद्योग नीम ट्रेनिंग अप्रेंटिस को कंपनी में रख लेती  है ा  इन ट्रैनीस को 2 या 3 साल के निर्धारित समय के लिए रखा जाता है ा इन ट्रेनीज़ को इस पीरियड के दौरान  काम के लिए  निर्धारित राशि दी जाती है ा  फिर इन ट्रैनीस  को ट्रेनिंग सर्टिफिकेट दिया जाता है ा उसके बाद ने ट्रैनीस रख लिए जाते है ा उद्योग सोचते है अगर उन्हें ऐसे ट्रैनीस मिलते रहे तो जरूरी है कि स्थायी कर्मचारी को रखा जाये उन्हें हर साल इंक्रीमेंट देना पड़ता है  ा

National Employability Enhancement Mission  योजना में  पी, एफ न ईएसआई

National Employability Enhancement Mission योजना में ट्रैनीस  का न तो पी, एफ और न ही ईएसआई कटा जाता है ा ट्रैनीस को भी ऐसी फैसिलिटी मिलनी चाहिए ा छुटियो का प्रवादान भी सही से होना चाहिए ा कुछ उद्योगों में तो इन ट्रैनीस को छुट्टी के लिए भी प्रताड़ित किया जाता है ा उन्हें भी स्थायी कर्मचारी की तरह छुट्टी मिलनी चाहिए ।  अगर कोई उद्योग ट्रैनीस के साथ छुट्टी के लिए मनमानी करता है तो उनके खिलाफ एक्शन होना चाहिए ा

 

Tags

admin

लेखक : अजय शर्मा मुझे हिमाचल प्रदेश की न्यूज़ आप तक पहुँचाने के लिए बहुत अच्छा लगता है l हिमाचल की पल - पल की खबर इस वेबसाइट पर हिंदी में पढ़े l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker