Life Style

बाबा का ढाबा रोते हुए Awesome Viral Video 1 बदल गयी जिन्दगी

बाबा का ढाबा दिल्ली के मालवीय नगर में है l कुछ दिन पहले एक विडियो वायरल हुआ था l जिसमे एक वुजुर्ग दम्पति रोते हुए नजर आये थे l इन वुर्जुगो का कहना था कि इनके बच्चे इन्हें पूछते तक नही l

बाबा का ढाबा विडियो वायरल

जिन्हें पाल पोसकर इन्होने बड़ा किया है l ये वुजुर्ग एक ढाबा चलाकर अपना गुजारा कर रहे थे l लेकिन जब से लॉकडाउन लगा है l तब से उनके ढाबे पर ग्राहक नही आ रहे है l और भूखे मरने की नोबत आ गयी है l इन वुजुर्ग दम्पति की उम्र 80 से भी ऊपर है l लेकिन एक शक्स ने एक विडियो vlog में इनका विडियो बनाकर वायरल किया l

hindi story अमीरों की गरीबो पर तानाशाही 

पेड़ू क्या होते है l देखने में कैसे होते है ये पेडू 

baba ka dhaba
babaji ka dhaba

बाबा का ढाबा में स्वादिष्ट खाना

अगले दिन से ही बाबा का ढाबा के वहार ग्राहकों की लम्बी लाइन लगी रहती है l लौगो का कहना है l कि बाबा का ढाबा में इतना अच्छा खाना बनता है l कि अगर आप एक बार यहाँ खाना खाओगे तो आपका बार – बार यहाँ आने का मन करेगा l बाबा के हाथो में एक प्रकार का जादू सा है l

इनके हाथ का मटर पनीर इतना स्बाद है l कि खाने बाला उंगलिया चाटता रह जाता है l एक विडियो ने इन वुजुर्ग दम्पति की जिन्दगी बदल दी l काश इनकी तरह और लौग भी ऐसे ही गरीब लौगो की मदद करे तो l कितना अच्छा होगा l फेसबुक और अन्य social media पर लौगो ने विडियो वायरल करने वाले शक्स की खूब तारीफ की है l

लौगो के अच्छे अच्छे कमेंट पढने को मिल रहे है l ट्विटर पर बाबा का ढाबा के हेसटैग करने के बाद से खाना खाने वालो की लम्बी कतारे ढाबे के बाहर लगी है l बाबा का कहना है l कि 30 सालो में कभी भी इतनी भीड़ बाबा के ढाबे में नही लगी l अब लगता है l कि बाबा को खाना बनाने में मदद करने के लिए और कारीगर रखने पड़ेंगे l

बाबा का कहना है l कि लॉकडाउन से पहले उनके बाबा का ढाबा में 4 से 5 हजार की बच्चत हो जाती थी l लेकिन जब से लॉकडाउन लगा है l उनका काम विल्कुल ठप हो गया है l बाबा का कहना है l कि लौगो ने आज यहाँ खाना खाने के साथ-साथ राशन खरीदने में भी हमारी बहुत मदद की है l

Tags

admin

लेखक : अजय शर्मा मुझे हिमाचल प्रदेश की न्यूज़ आप तक पहुँचाने के लिए बहुत अच्छा लगता है l हिमाचल की पल - पल की खबर इस वेबसाइट पर हिंदी में पढ़े l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker